बिलासपुर ।  इधर केयर एंड क्योर अस्पताल प्रबंधन के खिलाफ भी लोगों का आक्रोश बढ़ता जा रहा है। परिजनों का सवाल है कि आधी रात को ही क्यों मरीज को वेंटिलेटर पर रखने कॉल किया जाता है।
परिजनों का आरोप है, कि न तो उन्हें मरीज की स्थिति के बारे में बताया जाता, पूछने पर कोई जानकारी दी जाती, मरीज के परिजनों को गेट के बाहर कर दिया जाता है।
अंदर मरीज को दवाई और आवश्यक चिकित्सा दी जा रही या नहीं इसको लेकर भी संदेह है। एक साथ कई मरीज के भड़कने से जब माहौल गरमाया और हंगामा हुआ तो सूचना दे पुलिस बुलवाने की खबर है।
ऐसे ही हालात किम्स हॉस्पिटल का भी है। यहां भी डॉक्टर इलाज के नाम पर मोटी रकम उसूल रहे है। उचित इलाज न होने पर मरीज असमय काल के गाल में समा रहे है।