झज्जर। हरियाणा में बहादुरगढ़ में किसान आंदोलन स्थल के पास जिंदा जले मुकेश का एक और वीडियो सामने आया है। वीडियो अंधेरे में बना है, उसमें चेहरा नहीं दिख रहा है, सिर्फ आवाज सुनाई दे रही है। वीडियो में मृतक कह रहा, उसने आग खुद लगाई है। मृतक ने कहा वो घर वालों से था परेशान, बीवी से भी झगड़ा हुआ था। इसके पहले जो वीडियो वायरल  हुआ था, उसमें मृतक ने किसान आन्दोलन में शामिल लोगों पर जलाने का आरोप लगाया था।
  उस वीडियो बयान को पुलिस ने केस का सबूत भी बनाया है। इधर मृतक की पत्नी ने कहा कि अब सामने आए वीडियो में उसके पति की आवाज नहीं है। मृतक मुकेश की मां और पत्नी ने न्याय की गुहार लगाई है। उन्होंने किसान आन्दोलन में शामिल लोगों पर गांव में माहौल खराब करने के आरोप लगाया है। उन्होंने बच्चे की पढ़ाई और घर खर्च के साथ बालिग होने पर अपने बच्चे के लिए नौकरी की मांग की है। दूसरा वीडियो सामने आने के बाद कसार गांव के सरपंच ने किसान नेताओं को भी चेतावनी दी। उन्होंने कहा कि गांव में नही आना चाहिए। राकेश टिकैत और गुरनाम चढ़ूनी के आने से खाप और गांव के प्रधानों को कोई एतराज नहीं है। मृतक की पहचान कसार गांव निवासी मुकेश के रुप में हुई है।