मुंबई । फार्मा सेक्टर के सबसे बड़े आईपीओ ग्लैंड फार्मा को उम्मीद के अनुरूप रिस्पांस नहीं मिला है। दो दिनों में कंपनी को 65 लाख शेयरों के ही एप्लीकेशन मिले हैं, जबकि 3.02 करोड़ शेयर जारी किए गए थे। बुधवार को बंद होने जा रहे इस आईपीओ को अब तक दूसरे दिन 21 फीसदी ही सब्सक्रिप्शन मिला है। 6,479 करोड़ रुपए के इस आईपीओ को चीनी कंपनियां प्रमोट कर रही हैं, इसे लेकर निवेशकों में संशय की स्थिति है। जानकारी के अनुसार, पहले दिन ही आईपीओ को अच्छा रिस्पांस नहीं मिला था। पहले दिन मात्र 4.5 फीसदी ही सब्सक्रिप्शन मिला था। आईपीओ में क्यूआईबी का हिस्सा 47.8 और रिटेल का हिस्सा 14 फीसदी है। पहले दिन ग्लैंड फार्मा के आईपीओ में क्वालीफाइड इंस्टीट्यूशनल बायर्स (क्यूआईबी) का हिस्सा 86 फीसदी भरा था, जबकि रिटेल निवेशकों ने अपने हिस्सा का 7.7 फीसदी निवेश किया है। कंपनी ने आईपीओ के लिए 1,490 से 1,500 रुपए का भाव तय किया है।