ह्यूस्टन । अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन के प्रशासन ने आव्रजक बच्चों को रखने वाले प्रतिष्ठानों को कोरोना वायरस संक्रमण के कारण लगी पाबंदियों को हटाने और अधिक बच्चों को रखने के लिए बेड की संख्या बढ़ाने के निर्देश दिए हैं। अमेरिका के स्वास्थ्य एवं मानव सेवा मंत्रालय (एचएचएस) की ओर से शुक्रवार को जारी आदेश में सेवा प्रदाताओं से कहा गया है कि वे कोविड-19 से बचाव के नियमों का कड़ाई से पालन करते हुए स्वीकृत पूर्ण क्षमता तक पहुंचे। 
हालांकि, अब तक यह स्पष्ट नहीं है कि कितने बेड और बढ़ाए जाएंगे। पिछले माह इनकी आनलाइन संख्या करीब सात हजार थी। पिछले वर्ष स्वीकृत क्षमता 13 हजार से अधिक बेड की थी। इस बीच सैकडों की संख्या में बच्चे एचएचएस तंत्र में शामिल होने का इंतजार कर रहे हैं। ये बच्चे फिलहाल अमेरिका सीमा गश्त विभाग की हिरासत में हैं। 
महामारी के कारण लगी रोक हटाने से एचएचएस प्रतिष्ठानों में संक्रमण फैलने का खतरा बढ़ सकता है, लेकिन प्रतिष्ठान चलाने वाले संगठनों और कुछ वकीलों ने बच्चों को सीमा गश्त प्रतिष्ठानों में लंबे समय तक रखने या गैर-लाइसेंस प्राप्त आपात केन्द्रों में रखने के बजाए एचएचएस प्रतिष्ठानों में सुरक्षा का ध्यान रखते हुए बेड की संख्या बढ़ाने पर जोर दिया है। उल्लेखनीय है कि प्रति दिन करीब 400 बच्चे सीमा पर पाए जा रहे हैं जिनके साथ न तो उनके माता पिता होते हैं और न अभिभावक। आने वाले दिनों में यह संख्या बढ़ने की आशंका भी है।