नई दिल्ली. कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया (मार्क्सवादी) के महासचिव सीताराम येचुरी (Sitaram Yechuri) के बड़े बेटे आशीष येचुरी (Ashish Yechuri) का कोरोना वायरस (Coronavirus) के चलते निधन हो गया है. इस बात की जानकारी वाम नेता ने खुद ट्विटर के जरिए दी है. उन्होंने मुश्किल समय में उम्मीद देने के लिए लोगों का आभार जताया है. इसके अलावा राजधानी दिल्ली में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और दिल्ली सरकार के पूर्व मंत्री डॉक्टर अशोक कुमार वालिया भी दुनिया को अलविदा कह गए. येचुरी ने गुरुवार को ट्वीट किया 'बड़े दुख के साथ मुझे आपको सूचित करना पड़ा रहा है कि मैंने आज सुबह कोविड-19 की वजह से अपना बड़े बेटे आशीष येचुरी को खो दिया है. जिन्होंने हमें उम्मीद दी और उसका इलाज करने वाले डॉक्टर, नर्सेज, फ्रंटलाइन हेल्थ वर्कर्स, सैनिटेशन वर्कर्स और हमारे साथ खड़े रहने वाले अन्य लोगों का धन्यवाद करना चाहूंगा.'

कम्युनिस्ट पार्टी ने दी श्रद्धांजलि
वरिष्ठ नेता के बेटे के निधन पर कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया (मार्क्सवादी) ने श्रद्धांजलि दी है. सीपीाई-एम की आधिकारिक वेबसाइट के अनुसार पार्टी ने कहा 'सीताराम येचुरी और इंद्राणी मजूमदार के पुत्र आशीष येचुरी के आज सुबह (22 अप्रैल) को निधन की घोषणा करने पर हमें गहरा खेद है. उनका कोविड से संबंधित जटिलताओं के चलते निधन हो गया. वे 35 वर्ष के थे. पोलित ब्यूरो सीताराम और इंद्राणी, उनकी पत्नी स्वाति, उनकी बहन अखिला और शोक संतप्त परिवार के अन्य सभी सदस्यों के प्रति अपनी गहरी संवेदना व्यक्त करता है.'