भोपाल : मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने आज स्मार्ट उद्यान में गुलमोहर का पौधा लगाया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सभी नागरिकों से भी पौधे लगाने का आग्रह किया है।

गुलमोहर : ग्रीष्म काल की प्राकृतिक सुंदरता

गुलमोहर के पेड़ की सुंदरता उसके फूलों से होती है। गर्मी के दिनों में गुलमोहर के पेड़ पत्तियों की जगह फूल से लदे होते हैं।

गुलमोहर के फूल देखने में जितने सुंदर होते हैं उतने ही उपचारात्मक गुणों वाले भी होते हैं। फूलों के वर्ग के आधार पर यह मूलत: दो प्रकार का होता है- पहला लाल गुलमोहर तथा दूसरा पीला गुलमोहर। फूलों के रंग के आधार पर इसके औषधि परक गुण भी अलग होते हैं।

भारत के नम, आद्र और गर्मी वाले जगहों में गुलमोहर के फूल सबसे ज्यादा खिलते हैं। सनातन धर्म में गुलमोहर के फूल को पवित्र माना गया है। आयुर्वेद में भी गुलमोहर के बहुत सारे औषधीय गुण हैं जो इसे अद्वितीय बनाते हैं ।