ताशकंद । भारत की पूर्व वर्ल्ड चैम्पियन मीराबाई चानू ने वेटलिफ्टिंग एरिना में शानदार वापसी करते हुए एशियाई चैम्पियनशिप में क्लीन एवं जर्क में 119 किलो वेट उठाकर नया वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया है। प्रतियोगिता में भाग लेने के साथ ही उन्होंने टोक्यो ओलिंपिक के लिए भी टिकट हासिल कर लिया, क्योंकि वे अनिवार्य सभी 6 क्वॉलिफाइंग प्रतियोगिता में भाग ले चुकी हैं। 26 साल की चानू ने स्नैच में 86 किग्रा वेट उठाने के बाद क्लीन एवं जर्क में वर्ल्ड रिकॉर्ड कायम करते हुए 119 किलो वेट उठाया। इससे पहले क्लीन एवं जर्क मे वर्ल्ड रिकॉर्ड 118 किग्रा का था। उन्होंने कुल 205 किलो वेट के साथ ब्रॉन्ज मेडल हासिल किया। स्नैच में उनकी शुरुआत अच्छी नहीं रही। उन्होंने शुरुआत के दो चांस में 85-85 किलो वेट ही उठाए। लेकिन तीसरे चांस में 86 कलो वेट उठाया। वहीं उन्होंने क्लीन एवं जर्क की शुरुआत 113 किलो वेट से की, इसके बाद उन्होंने 117 किलो का वेट उठाकर अपने इंडिविजुअल सर्वश्रेष्ठ में सुधार किया। अंत में 119 किलो वेट उठाकर वर्ल्ड रिकॉर्ड कायम किया। यह वजन उनके शरीर के वेट से दोगुने से ज्यादा है।
पिछले साल फरवरी में चानू ने बनाया था नेशनल रिकॉर्ड
चानू का 49 किग्रा में इंडिविजुअल में अब तक सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कुल 203 किग्रा (88 किग्रा और 115 किग्रा) था, जो उन्होंने पिछले साल फरवरी में राष्ट्रीय चैम्पियनशिप में बनाया था।
गोल्ड और सिल्वर चीन के खिलाड़ियों ने जीता
गोल्ड और सिल्वर मेडल चीन की खिलाड़ियों ने जीता। चीन की होऊ जिहीहुई ने 213 किलो (96 किग्रा और 117 किग्रा) के साथ गोल्ड मेडल जीता। उन्होंने स्नैच में 96 किलो वेट उठाकर नया वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया। जबकि जियांग हुईहुआ ने 207 किलो वेट उठाकर सिल्वर मेडल जीता। उन्होंने स्नैच में 89 किलो और क्लीन एवं जर्क में 118 किलो वेट उठाया। वे ओलिंपिक क्वॉलिफाई कर चुकी हैं।