हॉन्ग कॉन्ग  । देश की सबसे रसूखदार महिला को भी शातिर चोरों ने नहीं छोड़ा। चोरों ने एक 90 साल की महिला को 32 मिलियन डॉलर्स यानी लगभग 240 करोड़ का चूना लगाया है। इसे हॉन्ग कॉन्ग के इतिहास का सबसे बड़ा फोन स्कैम कहा जा रहा है। यह खुलासा तब हुआ जब साउथ पुलिस ने इस मामले में एक 19 साल के यूनिवर्सिटी स्टूडेंट को गिरफ्तार किया और फोन स्कैमर्स के एक अकाउंट से 8 करोड़ रुपए बरामद किए। पुलिस के मुताबिक, इस महिला को एक फोन आया था और इस शख्स ने अपने आपको कानून प्रवर्तन अधिकारी बताया गथा. पुलिस के सोर्स ने कहा कि इस महिला को कहा गया था कि उनकी आइडेंटिटी का इस्तेमाल कुछ खतरनाक अपराधी कर रहे हैं और इसके चलते उन्हें काफी दिक्कतें हो सकती है। इसके बाद उन्हें पैसा ट्रांसफर करने की सलाह दी गई ताकि इस बात की जांच की जा सके कि उनका पैसा गैर-कानूनी तो नहीं है। इस महिला को कहा गया था कि चीन के एक बेहद गंभीर क्रिमिनल केस में उनका इस्तेमाल किया जा रहा है। ये सुनने के बाद महिला काफी डर गई थी। हालांकि महिला को कहा गया था कि उसे फिक्र करने की जरूरत नहीं है और उनका सारा पैसा जांच के बाद वापस भेज दिया जाएगा लेकिन जब ऐसा नहीं हुआ तो महिला को शक हुआ और उसने इस मामले में पुलिस को सूचना दी थी। कुछ समय पहले प्लंकेट रोड पर स्थित इस महिला के घर एक स्टूडेंट पहुंचा था। पुलिस के मुताबिक, इस स्टूडेंट ने महिला को कम्युनिकेट करने के लिए फोन भी दिया था। इसी नंबर पर इस महिला को फोन स्कैमर ने फोन किया गया था। इस महिला ने इसके बाद 239 करोड़ रुपए तीन अकाउंट्स में जमा कर दिए थे। महिला ने इसके लिए अपने अकाउंट में 5 महीनों में 11 बार ट्रांजेक्शन कराया था। इससे पहले युएन लॉन्ग में रहने वाली एक 65 साल की महिला को भी फोन स्कैमर्स ने 64 करोड़ का चूना लगा दिया था। गौरतलब है कि हॉन्ग कॉन्ग में फोन स्कैम के केसों में इस साल काफी वृद्धि देखने को मिली है। पिछले साल यानि 2020 के पहले चार महीनों में फोन स्कैम के 169 मामले सामने आए थे।