मुंबई । अमेरिका की दिग्गज ई-कॉमर्स कंपनी अमेजन ने भारत में अमेजन सेलर सर्विसेज में 915 करोड़ रुपए का बड़ा निवेश किया है। नियामक दस्तावेज के अनुसार यह ताजा निवेश भारत में अमेजन को अपनी प्रतिद्वंद्वी कंपनियों का आक्रामक रूप से सामना करने में मदद मिलेगी। फ्लिपकार्ट की वालमार्ट और मुकेश अंबानी की जियोमार्ट उसके दो सबसे बड़े प्रतिद्वंदी हैं। कारोबार जगत पर अनुसंधान करने वाले समूह टॉफलर ने कंपनी कॉरपोरेट मामलों के मंत्रालय में जमा रिपोर्ट के आधार पर बताया है कि अमेजन कॉर्पोरेट होल्डिंग्स और अमेजनडॉटकॉमडॉटआईएनसी ने अमेजन सेलर सर्विस में 915 करोड़ रुपए का निवेश किया है। दस्तावेजों से पता चला है कि अमेजन कॉर्पोरेट होल्डिंग्स को 91,49,57,723 शेयर तथा अमेजनडॉटकॉमआईएनसी को समझौते में 42,277 शेयर दिए गए हैं। अमेजन इंडिया ने इस संबंध में ईमेल के जरिए भेजे गए का सवाल पर उसने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी। उल्लेखनीय है कि भारतीय बाजार में अपनी स्थिति को और मजबूत करने के लिए अमेजन बाज़ार मंच, थोक और भुगतान व्यवसाय क्षेत्र में कई अरब डॉलर का निवेश कर रहा है। पिछले वर्ष जनवरी में अमेजन के सस्थापक जेफ़ बेज़ोस ने भारत में छोटे और मध्यम व्यवसायों को ऑनलाइन लाने में मदद करने के लिए सात हजार करोड़ रुपए निवेश करने की घोषणा की थी। इससे पहले भी अमेजन ने देश में 5.5 अरब डॉलर का निवेश करने की घोषणा की थी। अमेरिका के अलावा भारत अमेजन के सबसे अहम बाजारों में से एक हैं।