बिलासपुर ।  तारबाहर थाना क्षेत्र अंर्तगत हुई चोरी के प्रकरण का पुलिस ने खुलासा किया।।जहाँ इस मामले में पुलिस ने चोरी का पूरा माल बरामद कर जप्त कर लिया है,और शातिर चोर को हिरासत में ले लिया गया है खुलासा में पुलिस ने बताया कि मिशन सिक्योर सिटी के तहत लगाये सीसीटीवी कैमरे के सहयोग से मिली दिशा शातिर नकबजन हुआ था सीसीटीवी कैमरे में कैद।
लगातार स्थान व वेशभूशा बदल कर काट रहा था फरारी पूर्य की चोरियों में शामिल रहा है आरोपी 02 वर्ष पूर्व सकरी में हुई चोरी में भी था फरार  9फरवरी को प्रार्थी अश्वनी कुमार बरगा ने थाना आकर रिपोर्ट दर्ज कराया कि यह सीएमडी चौक में अब्दुल रशीद खान फिल्टर वाले दुकान में काम करता है कि उसका मालिक अब्दुल रशीद इंद्रा कालोनी तारबाहर का निवासी है जो  2 फरवरी को सुबह 09.30 बजे अपने परिवार के साथ उज्जैन गया है घर के बाथरूम का नल खराब था जिसे मिस्त्री से बदलवाने फोन पर  8 फरवरी को यह दुकान से घर की चाबी व मिस्त्री नरेन्द्र साहू को साथ लेकर मालिक के घर गया तब देखा कि घर के दरवाजे का ताला टूटा हुआ था एवं सामान बिखरा हुआ था।
तब यह अपने मालिक को फोन से सूचना दिया और विडियो कॉल कर हालात दिखाया तब मालिक ने बताया कि आलमारी में रखे सोने का हार, अंगूठी,चाँदी का पायल आदी किमती करीब 01 लाख रुपये के जेवरात चोरी होना बताया एवं मालिक के आने पर घर को चेक करने पश्चात ही कितने की चोरी हुई है बता पायेंगे कि रिपोर्ट पर अप00 35/21 धारा 457380 भा.द.वि. कायम कर विवेचना में लिया गया दौरान विवेचना मकान मालिक अब्दुल रशीद खान के आने पर पुन: घटना स्थल का निरीक्षण कर विस्तृत कथल लिया गया जो करीब 10-12 साख की नई एवं पुरानी सोने चाँदी के जेवरात का चोरी होना बताया।चोरी के इस प्रकरण को गम्भीरता से लेते हुए पुलिस अधीक्षक बिलासपुर प्रशांत अग्रवाल ने तत्काल पतासाजी हेतु अपने मातहत अधिकारियों को निर्देशित किया, विशेष टीम तैयार किया गया: एक तकनीकी टीम एवं एक टीम को स्थानीय सूत्रों से जानकारी हासिल करने व एक टीम सीसीटीवी फुटेज को खंगालने हेतु लगाया गया था,मामले में घटना कि तारीख  2 फरवरी से लेकर 8 फरवरी के मध्य का होना पाया गया था जो मटना कि निश्चित तिथि व समय ज्ञात नहीं होने से पुलिस के सामने कठिन समस्या आ गई थी।
सीसीटीवी फुटेज चेक कर रहे पार्टी को  2 फरवरी से 7 फरवरी तक के चौक चाराही में लगे मिशन सिक्योर सिटी के तहत सीसीटीवी कैमरे के फुटेज का बारीकी से निरीक्षण कर संदेही को चिन्हाकित करने में काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ा फिर भी संदेही को चिन्हांकित कर आरोपी संजय खरे उर्फ कंठा को लोकल सुतं व पुलिस टीम के द्वारा पकडऩे में कामयाबी हासिल किये एवं मामले में चोरी गये सोने चाँदी के जेवरात कीमती 10 लाख रूपये को बरामद किया गया।
आरोपी संजय कंठा एक शातिर नकबजन है जो कि घटना घटित करने के बाद से अपना ठिकाना लगातार बदल रहा था घटना के बाद से संजय कंठा अकलतरा जांजगीर लोरमी मुंगेली में स्थान बदल बदल कर पुलिस बचने के लिए भाग रहा था,इस बीच स्थानीय लोगों से लगातार आरोपी के संबंध पतासाजी करने वाली टीम को जानकारी मिली कि आरोपी संजय कंठा लोरमी तरफ रह रहा है सूचना पर टीम के टीम ने आरोपी के संबंध में सूचना एकत्र कर आरोपी को गिरफ्तार कर पकड़ा संजय कळा एक शातिर नकबजन है, जो पूर्व में कई चोरी में गिरफ्तार किया जा चुका है ,सकरी में हुई एक पुलिस अधिकारी के घर के चौरी में भी यह पिछले 1 वर्षों से फरार धा।
कार्यवाही में तारबाहर थाना प्रभारी निरीक्षक कलीम खान, उप निरीक्षक प्रसाद सिन्हा, उपनिरीक्षक पीआर साहू, आरक्षक क्रमांक 771 प्रमोद कसेर 718 दीपक उपाध्याय, 466 अतुल सिंह, 865 निखिल राव जाधव, 1452 दूजराम पटेल का विशेष योगदान रहा