लखनऊ. पीएम किसान सम्मान निधि (PM Kisan Samman Nidhi) से जुड़े उत्तर प्रदेश के 2.42 करोड़ किसानों को होली से पहले तोहफा मिल सकता है. योजना के तहत किसानों को हर साल 3 किस्‍त में 6,000 रुपये की आर्थिक मदद (Financial Support) दी जाती है. इसमें सीधे किसानों के बैंक अकाउंट में 2,000 रुपये की तीन किस्‍तें भेजी जाती हैं. उम्‍मीद की जा रही है कि इस बार केंद्र सरकार होली के त्‍योहार (Holi Festival) से पहले ही किसानों के खाते में 8वीं किस्‍त के 2,000 रुपये भेज देगी.

बता दें कि देश में प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का सबसे ज्यादा फायदा उत्तर प्रदेश के किसानों को मिला है. यूपी में इस योजना के 2.42 करोड़ लाभार्थी हैं. इसकी शुरुआत प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 24 फरवरी 2019 को उत्तर प्रदेश से ही की थी. अगर देश की बात करें तो पीएम किसान योजना से 12 मार्च 2021 तक कुल 11.71 करोड़ किसान जुड़ चुके हैं.

यहां करें चेक

मोदी सरकार होली के आसपास किसानों के अकाउंट में पैसे ट्रांसफर कर सकती है. इससे पहले 7 क़िस्त किसानों के खाते में जमा हो चुकी है. वहीं, केंद्र सरकार उन किसानों के नाम लाभार्थियों की सूची से हटाने की तैयारी कर रही है, जो फायदा लेने के पात्र नहीं है. इस योजना की पूरी फंडिंग केंद्र सरकार करती है. अगर आपके अकाउंट में अभी तक पीएम किसान सम्मान निधि की किस्त नहीं आई है तो आप घर बैठे लिस्‍ट देखकर अपनी स्थिति की जानकारी ले सकते हैं. इसके लिए सबसे पहले पीएम किसान की आधिकारिक वेबसाइट https://pmkisan.gov.in/ पर जाना होगा.


सभी किसानों को नहीं मिलता है योजना का फायदा

पीएम किसान सम्मान निधि के तहत देशभर के सभी किसानों को फायदा नहीं मिलता है. योजना के तहत सिर्फ उन्हीं किसानों को पीएम-किसान की किस्‍त भेजी जाती है, जिनके पास 2 हेक्टेयर यानी 5 एकड़ कृषि योग्य खेती हो. अब सरकार ने जोत की सीमा खत्म कर दी है. हालांकि, अगर कोई इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करता है तो उसे पीएम किसान सम्मान निधि से बाहर रखा गया है. वकील, डॉक्टर, सीए भी इस योजना से बाहर हैं.